Go to ...
RSS Feed

August 20, 2018

साली की चुत में बड़ा काला लंड दाल दिया उसको पता ही नहीं चला


साली की चुत में बड़ा काला लंड दाल दिया उसको पता ही नहीं चला

मेरी साली हमारे साथ १ साल से रह रही हे. मेरी बीवी माल हे पर साली उससे मस्त माल हे. उसके बूब्स थोड़े छोटे हे पर गांड गजब हे. में हमेशा से उसे पसंद करता था पर जबसे वो साथ आके रहने लगी उसके चाल चलन और उसके कपडे देख उसे छोड़ने का मन करने लगा.

वो हर सुबह दोड़ने जाती योग पेंट पहन कर. वापिस आते हुए  उसकी पेंट इतनी गीली हो जाती की उसके गांड के साथ ही उसकी चूत का शेप देख पाता हूँ. उसका नाईट गाउन इतना छोटा रहता हे तो कभी वो बिना देखे झुक जाए तो उसके थोंग्स दिखने लगते हे. मेने एक बार उसे पूरा नंगा देखा था वो वाशरूम से अपने रूम में घुसी पर उसे पता नहीं होगा की दरवाजा खुला हुआ था. और उसने कुछ नहीं पहन रख्खा था. वो जब तक दौड़ कर अपना दरवाजा बंद करने आई मेने उसकी चिकनी चूत और उसके छोटे छोटे मुम्मे देख लिए थे.

एक बार में रात में उठा और उसे इतना छोटा गाउन पहना देखा जिसमे से उसकी गांड थोड़ी बहुत झलक रही थी. और हद तो तब हो गयी जब वो कप उठाने झुकी और उसकी नंगी गांड दिखने लगी. में वही अँधेरे में खड़ा ये सब देख पागल हो गया. उस रात में उसकी नंगी गांड को सोच सोच मुठ मार लिया. पर तबसे ही में उसे रोज सुबह उसे दौड़ने के बाद देखता. उसे चोदने की तमन्ना मेरे दिल में बढती ही जा रही थी.

उसका बॉयफ्रेंड उससे ही बड़ा ठरकी हे. मेरी बीवी उसे पसंद नहीं करती तो वो घर ना आ पाए. पर ३ हफ्ते पहले जब वो डेल्ही अपने किसी काम से १ हफ्ते के लिए चली गयी उसकी बहेन अपना बॉयफ्रेंड  घर लाने लगी. मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता था. वो किसी को भी घर ले आये रात में वो लोग चुदाई करते और कुछ ज्यादा ही करते.

उसके रूम में से कभी सिसकियो की कभी चीखने की और कभी पलंग झोर झोर से खटकने की आवाज़ आती. कई बार मेने उसकी आवाज़ सुनते सुनते ही मुठ मारा हे. उनकी चुदाई कई घंटो तक चलती. उसके बॉयफ्रेंड को कुछ सक हो गया था. में जब बहार आता वो कभी कभी उसकी गांड दबाने लगता और में बेसुध हो कर उसकी गांड देखता. हर बार वो मुझे देख कर सिर्फ मुस्कुरा देता था एसा कई बार हुआ.

हर बार की तरह आज भी वो लोग चुदाई कर रहे थे में जब बहार निकला तो मेने उनका दरवाजा खुला देखा मेने अन्दर झक कर देखा तो एक नंगी झांग दिखाई दी. में घबरा कर बहार निकला तो पीछे उसका बॉयफ्रेंड खड़ा मुस्कुरा रहा था. उसने कहा आपको कुछ दिखाना हे और रूम में ले गया.

रूम में देखा तो मेरी साली पलंग से बंधी हुई थी. उसकी आँखों पर पट्टी मुह में रुमाल ठूसा हुआ था. और वो गांड ऊपर करके वही बठी हुई थी. उसकी चुकणी चूत और गांड साफ़ देख सकते थे. उसने मुझे थोडा धक्का दिया और फिर मेरा हाथ उसकी गांड पर रख्खा में बे सुध हो के उसपे हाथ गुमने लगा. उसकी चूत और उसके छेड़ की गर्मी साफ़ महसूस हो रही थी.

वो फिर मुझे बहार ले गया और बोला की में उसे चोद सकता हूँ लेकिन मुझे उसे १० हजार डदेने होंगे. मेने साफ़ मना कर दिया. पर उसने कहा की मुझे सब कुछ खुला हे. में उसकी गांड चूत सब छोड़ सकता हूँ पर उसकी चूत नहीं भर सकता. बाकी जितनी बार चाहो उसका इस्तेमाल कर सकता हूँ. मेने उससे थोड़ी देर बात की और आखिर कार ८ हजार उसकी अकाउंट में ट्रान्सफर कर दिए. उसने मुझे कहा की पजामे में से मेरा लंड दिख रहा हे. अब जाकर में उसका इलाज करू.

में अन्दर गया और उसकी चूत और गांड चाटने लगा. वो मचल उठी. उतनी देर में मेने अपना पजामा खोला और लंड बहार निकाल उसकी चूत में दाल दिया. वो जन्नत लग रहा था. में उसे रंडियों की तरह छोड़ने लगा. और फिर लंड बहार निकाल कर उसकी पीठ पर मुठ मार दिया. उसकी पीठ पर पहले ही उसके बॉयफ्रेंड का काफी मुठ था. फिर मेने उसकी गांड में लंड ठेल दिया. उसकी गांड इतनी टाइट थी की मजा ही गया. फिर में गांड में चोदते चोदते ही दो बार अन्दर ही मुठ मार डाला.

अभी में तीसरी बार अन्दर दाल कर चोदना चालु ही किया था की वोह मचलने लगी गयी. मेने उसे झोर से पकड़ा और चोदने लगा. फिर देखते ही देखते उसकी चूत में से पानी बहने लगा. पहले थोडा सा और फिर फुवारे की तरह बहार निकलने लगा. मेने थोड़ी देर तक उसे मुठ मरने दिया फिर उसकी गांड चोदने लगा. अब हर बार जब भी में झोर से लंड अन्दर धकेलता उसका थोडा सा और मुठ निकल जाता.

एसा करते करते में उसकी गांड में और २ बार मुठ मार दिया. लंड बहार खीचा तो उसकी गांड से मुठ बहते हुए उसकी चूत पर से होता हुआ उसकी गीली टांगो पे जाने लगा. ये देख मुझे उससे और ज्यादा चोदने का मन करने लगा. फिर में उसकी चूत को एक बार फिर चोद डाला. अगली बार मेरे मन में कुछ अलग करने का मन था. मेने उसकी चूत में अपना लंड डाला और उसकी गांड में अपनी ऊँगली और दोनों को एक साथ चोदने लगा. वो फिर पागल हो गयी.

मेरा मुठ जब निकलने वाला था मेने उसकी चूत से लंड खीचा तो वो फवारे की तरह मुठ मरने लगी. इसे देख मेने जल्दी से उसकी गांड में अपना लंड ठेल के अन्दर मुठ निकल दिया. फिर मेने कई और बार उसे चोदा. यहाँ तक की मेने उसके मुमे पर और उसके गाल पर अपना मुठ मारा.

करीब १;३० घंटे बाद उसका बॉयफ्रेंड अन्दर आकार इशारा करने लगा की मुझे जाना चाहिए. में उस समय उसकी चूत चोद रहा था. मेरे जाने का कोई मन ना था. उसने इशारा किया मुझे बहार निकलने को उसने मेरी साली को सीधा किया और उसके मुह से रुमाल निकाला तो वो बोलने लगी मादरचोद क्या चोदा हे सारी चूत ही खाली कर दी. उसका बॉयफ्रेंड उसे माल मरवाने लगा और ३ पफ में ही वो फिर बेसुध हो गयी. फिर उसने अपना लंड निकला और उसके मुह में दाल कर जोर जोर से उसका मुह चोदने लगा. उसने मुझे इशारा किया की इसे करना हे.

और फिर उसका मुह मुठ से भर दिया. वो तो सारा पि गयी. फिर मेने भी उसका मुह लेकर वही किया. फिर देखा की वो अपने बंधे हुए हाथ की एक ऊँगली चूत में डाली हुई थी. उसे देख मेरा फिर खड़ा हो गया. मेने उसे इशारा किया बहार जाने का और उसका मुह चोदने लगा. इस बार मेने अपना लंड उसके हलक तक उतार दिया. और उसने फिर ले लिया. देखते ही देखते में दो बार उसके मुह में मुठ मार दिया. फिर उसकी टांग उठाकर उसके हाथ पकड़ कर थोड़ी देर चोदा और फिर उसके मुह में मुठ मार दिया. जाते जाते मेने उसकी चूत में जोर जोर से ऊँगली कर के उसको एक बार और मुठ मरवा दिया.

(Visited 7 times, 1 visits today)

Tags: , , , , , , , , , , , ,

More Stories From desi