Go to ...
RSS Feed

August 19, 2018

मैंने 10-15 मिनट तक उसका लंड चूसा 💋 उसके लंड में से ढेर सारा पानी निकला चूत तो इस बीच ना जाने कितनी बार अपना पानी छोड़ चुकी थी और। …..


मैंने 10-15 मिनट तक उसका लंड चूसा 💋 उसके लंड में से ढेर सारा पानी निकला चूत तो इस बीच ना जाने कितनी बार अपना पानी छोड़ चुकी थी और। …..

हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम वन्दना है, मेरी उम्र 27 साल की है और मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ. दोस्तों मैं एक शादीशुदा औरत हूँ और मुझको सेक्स करना बहुत पसन्द है. दोस्तों मैं भी आप सभी की तरह कामलीला डॉट कॉम की एक नियमित पाठिका हूँ. मेरा रंग थोड़ा गेहुँवा सा है और मेरा फिगर 34-30-36 का है. दोस्तों जो भी मेरी उभरी हुई गांड और बब्स को एकबार देखता है तो देखता ही रह जाता है. दोस्तों जैसा कि, मैंने आप सभी को बताया है कि, मुझको सेक्स करना बहुत पसन्द है पर मेरे पति को सेक्स इतना पसन्द नहीं है और वह तो अपने काम धंधे में ही व्यस्त रहते है। दोस्तों अब मैं आप सभी को इस वेबसाइट के माध्यम से मेरे साथ हुई एक घटना को एक कहानी के रूप में बताने जा रही हूँ और आशा करती हूँ कि, यह आप सभी को मेरी यह कहानी जरूर पसन्द आएगी।

दोस्तों यह बात आज से 6 महीने पहले की है. तब हमारे एरिया में लेडीज की किटी पार्टी होती थी और वह हर 15 दिन में 1 बार होती थी और हर बार हम सहेलियों में से किसी ना किसी के घर पर किटी पार्टी होती थी. 6 महीनें पहले एक बार मेरी एक सहेली के फ़ार्म हाऊस पर किटी पार्टी थी तो उसने मुझको फोन करके बोल दिया था. और फिर जब मैं और मेरी दो और सहेलियाँ अपने-अपने घर से उसके फार्म हाउस पहुँची तो हम वहाँ पर जाकर एकदम से चौंक गये थे. क्यूंकी दोस्तों उसने वहाँ पर 3 कॉल-बॉय बुला रखे थे और मेरी पहले से वहाँ पर मौजूद और सहेलियाँ उनके साथ चिपक-चिपककर डान्स कर रही थी. और फिर जब हम भी अन्दर गये तो सुषमा (जिसके फार्म हाउस पर पार्टी थी) ने हमसे बोला कि, आज तो हमको खूब मस्ती करना है और इसीलिए मैंने इनको बुलाया है. दोस्तों उसने उसके घर पर सिर्फ़ हम 9 सहेलियों को ही बुलाया था और फिर उसने हमको पूरा प्रोग्राम बताया कि, हम सब सबसे पहले तो इन कॉल-बॉय के साथ मिलकर डान्स करेंगे और फिर बाद में हम 3-3 के ग्रुप में मिलकर 1-1 कॉल-बॉय को अपने साथ अलग-अलग कमरों मे ले जाएँगे. और फिर हम सेक्स का पूरा मजा इन कॉल-बॉय से ले सकते है। दोस्तों मैं तो मन ही मन बहुत खुश हो रही थी क्योंकि मैं भी चुदाई के लिये बहुत दिनों से तड़प रही थी. और फिर थोड़ी देर के बाद वह कॉल-बॉय हमको उनके साथ डान्स करने के लिए ले गये थे. दोस्तों मैं आपको उन तीनों कॉल-बॉय के नाम बता दूँ, उनके नाम अमन, अमित और साहिल थे।

पहले तो मैंने अमन के साथ डान्स किया और फिर मुझको थोड़ा अच्छा लगा क्यूंकी वह मेरे पीछे से मेरी गांड से चिपककर डान्स कर रहा था और उसका लंड मेरी गांड को छू रहा था जो कि, मुझको बहुत अच्छा लग रहा था. और फिर थोड़ी देर के बाद जब मैं अमित के पास गई डान्स करने के लिये और जब उसका लंड मेरी गांड में लगा तो उसका लंड मुझको बहुत बड़ा लग रहा था. और फिर डान्स करते-करते मैंने पीछे से अपना हाथ डालकर जब उसके लंड को छुआ तो कसम से मैं तो बहुत खुश हो गई थी. फिर मैंने साहिल के साथ भी डान्स किया था. पर मुझको अमित के साथ जो मजा आया था वह साहिल के साथ नहीं आया था. और अब समय था कॉल-बॉय को कमरे में लेकर जाने का था. और तब मैंने और मेरी 2 सहेलियों ने मिलकर अमित को अन्दर ले जाने को कहा. दोस्तों वह बहुत स्मार्ट भी लग रहा था और फिर जैसे ही हम कमरे में पहुँचे तो इतने में मेरे पति का फोन आया तो मुझको घर पर जाना पड़ रहा था पर मुझको यह पार्टी छोड़कर जाने का मन भी नहीं कर रहा था. मेरे पति को मुझसे कुछ जरूरी काम था. और फिर मैंने वहाँ से निकलते-निकलते अमित से उसका मोबाईल नम्बर ले लिया था और फिर मैं वहाँ से अपने घर के लिए निकल गई थी. और फिर अगले दिन दोपहर को 2 बजे मैंने अमित को फोन किया और फिर उसको अपने घर मिलने के लिए बुलाया, क्यूंकी मेरे पति अगले दिन अहमदाबाद अपने ऑफिस के काम से जा चुके थे. और फिर मैंने फोन पर अमित को अपना पता दे दिया था. और फिर वह थोड़ी देर में मेरे घर पर आ गया था. दोस्तों उस समय मैं मन ही मन बहुत खुश हो रही थी. क्योंकि यह मेरा किसी दूसरे मर्द के साथ पहलीबार था।

xxx kahani,hindi sex story,antarvasna,Kamukta,kamukta. com,hindi sex stories, Desi sex stories, desi sex story, Hindi Sex Stories, hindi sex story

और फिर उसके आने पर जब मैंने दरवाजा खोला था तो मेरे बब्स की निप्पल तो अपने आप ही टाइट होने लग गई थी. और फिर मैंने उसको अन्दर बुलाकर बैठा दिया था और फिर मैंने उससे पूछा कि, क्या लोगे? तो उसने बोला कि, मुझको एक गरम कॉफ़ी चाहिए. और फिर मैं उसका इशारा समझ गए थी. और फिर मैं उसके लिए कॉफ़ी बनाकर लेकर आई. और फिर जब मैंने उसको कॉफ़ी दी तो इसबीच मैंने अपनी साड़ी का पल्लू गिरा दिया था, जिससे कि, वह भी थोड़ा गरम हो जाए. और फिर तो वह भी मेरे बब्स को देखने लग गया था और साथ ही वह और भी उत्तेजित होने लग गया था. और फिर उसने अपनी कॉफ़ी खत्म कर ली थी. और मैं उसके पास आकर बैठकर उसकी जाँघ पर हाथ फेरने लगी. और फिर मैं भी उत्तेजना में आकर उसको किस करने लग गई थी कसम से दोस्तों उस समय मुझको बहुत मज़ा आ रहा था और वह भी मुझको खूब जमकर किस कर रहा था और पूरा मज़ा दे रहा था. और फिर मैंने उसको बोला कि, चलो अब बेडरूम में चलते है. और फिर उसने मुझको अपनी गोद में ले लिया था और मैं उसके सीने की निप्पल से खेलने लग गई थी. और फिर उसने बेडरूम में आकर मुझको बेड पर लेटाकर मेरे होठों पर किस करने लग गया था जिससे मुझको और भी मज़ा आ रहा था. और फिर करीब 10 मिनट तक उसने अपने होंठ मेरे होठों से चिपकाए रखे और फिर वह मेरे कपड़ों को खोलने लगा और फिर वह मेरे बब्स को सहलाने लगा. दोस्तों उसके ऐसा करने से मेरी तो पैन्टी गीली होने लग गई थी और वह मेरी ब्रा के ऊपर से ही मेरे बब्स के निप्पल को हल्के-हल्के अपने मुहँ में लेकर काट रहा था. और फिर वह मेरे पूरे बदन को क़िस करने लग गया था जिससे मैं भी बहुत जोश में आ गई थी और फिर मैंने भी उसके कपड़े उतार दिए थे और फिर मैं उसके अंडरवियर के ऊपर से ही उसके लंड को अपने मुहँ में लेने लग गई थी। और फिर मैंने उसका अंडरवियर भी उतार दिया था. दोस्तों उसका लंड बहुत बड़ा था और मैंने इतना बड़ा लंड पहले कभी नहीं देखा था, उसका लंड लगभग 7.5″ का लग रहा था. और फिर मैंने झट से उसको अपने मुहँ में ले लिया था. और फिर मैं उसको बड़े ही प्यार से चूसने लग गई थी, दोस्तों कसम से क्या कमाल का स्वाद था उसके लंड का. 

और फिर मैंने 10-15 मिनट तक उसका लंड चूसा और फिर उसने मुझको बोला कि, उसका माल अब निकलने वाला है. तो फिर मैंने उसके लंड का सारा पानी अपने मुहँ में ले लिया था. दोस्तों उसके लंड में से ढेर सारा पानी निकला था. मैं तो उसको देख-देखकर ही पागल हो रही थी और मेरा पानी तो ना जाने कितनी बार निकल चुका था. और फिर 5-10 मिनट के बाद उसका लंड फिर से खड़ा हो गया था. और फिर वह मेरी ब्रा को उतारकर मेरे बब्स के साथ खेलने लग गया था और मेरे बब्स से मेरा दूध पीने लग गया था. और फिर करीब 15 मिनट तक वह मेरे बब्स को चूसता रहा. और फिर मुझसे अब रहा नहीं जा रहा तो मैंने उसको कहा कि, अब तुम मेरी चूत में अपना यह लंड डाल दो. और फिर वह मेरा पेटीकोट और पैन्टी को निकालने लगा और फिर वह मेरी चूत को चाटने लगा. दोस्तों उसके ऐसा करने से मैं तो पागल सी हो रही थी और उसके मुहँ को अपनी चूत के पास दबा रही थी. दोस्तों आज तक मेरे पति ने भी सेक्स में मेरे साथ कभी ऐसा नहीं किया था. और फिर वह धीरे-धीरे करके अपना लंड मेरी चूत में डालने लग गया था. और फिर मुझसे तो बिल्कुल भी रहा नहीं जा रहा था. दोस्तों उसका इतना बड़ा लंड थोड़ा सा ही मेरी चूत के अन्दर जाते ही मैं तो चिल्ला उठी थी. और फिर मैंने उसको बोला कि, इसको बाहर निकालो. लेकिन उसने मेरे मुहँ की आवाज़ को अपने होठों को मेरे होठों पर रखकर बन्द कर दिया था. और फिर उसने अपने लंड को मेरी चूत में डालकर 2-3 झटके देकर अपना पूरा लंड अन्दर तक डाल दिया था. और फिर थोड़ी देर तक तड़पने के बाद वह सब मुझको भी बहुत अच्छा लगने लग गया था. और फिर उसने धीरे-धीरे अपनी चुदाई की स्पीड को भी बढ़ा दिया था।

दोस्तों मेरी चूत तो इस बीच ना जाने कितनी बार अपना पानी छोड़ चुकी थी. और फिर मैंने उसको थोड़ा और तेज अपनी स्पीड को बढ़ाने को बोला तो फिर वह और भी तेज-तेज मेरी चुदाई करने लग गया था. दोस्तों उसकी उस जबरदस्त चुदाई से मैं तो उस समय किसी दूसरी ही दुनिया में पहुँच गई थी. दोस्तों पूरे 30 मिनट तक वह अपने लंड को मेरी चूत में अलग-अलग पोजीशन में अन्दर-बाहर करता रहा और फिर उसने मुझको बोला कि, अब मैं झड़ने वाला हूँ. तो फिर मैंने उसको बोला कि, तुम अपना सारा माल मेरी चूत के अन्दर ही छोड़ दो, मैं बाद में आई-पिल की गोली ले लूँगी. और फिर मैंने उसका लंड अपने मुहँ में लेकर पूरा अच्छी तरह से साफ कर दिया था. और फिर जब उसने मुझसे पूछा कि, क्या आप मेरे काम से संतुष्ट हो या आपको अभी और भी मजे लेना है? तो फिर मेरी आँख से आँसू आ गये थे और मैंने उसको बोला कि, आज तक मेरे पति ने भी कभी मुझको ऐसा मजा नहीं दिया. और फिर वह मेरी बात को सुनकर बहुत खुश हो गया था।

(Visited 7 times, 1 visits today)

Tags: , , , , , , , , , , , , , , , ,

More Stories From desi